Study Abroad: कोविड-19 के समय में विदेश जाकर कैसे करें पढ़ाई? इन आसान टिप्स से मिलेगी मदद

How To Plan Study Abroad: यदि आप पढ़ाई के लिए विदेश जाने की योजना बना रहे थे, लेकिन अब कोविड-19 के कारण ऐसा करना संभव नहीं है तो चिंता न करें। कोविड -19 महामारी के कारण बच्चों के लिए अपने ही देश में पढ़ना बहुत मुश्किल हो गया है और इसके अलावा लगभग सभी देशों ने उन छात्रों की इंट्रीज को प्रतिबंधित कर दिया है जो पढ़ाई के लिए आना चाहते हैं। ऐसे में जो बच्चे विदेश में पढ़ना चाहते हैं उनके लिए एक बड़ी समस्या खड़ी हो गई है, लेकिन आपको इस स्थिति से डरना नहीं चाहिए बल्कि इसका फायदा उठाना चाहिए। आप इस समय का उपयोग विदेश में पढ़ाई करने के लिए अपने आपको बेहतर तरीके से तैयार करने में कर सकते हैं। कुछ खास तैयारियों के साथ जब आप नई जगह पर जाएंगे तो नए माहौल में खुद को जल्दी और ज्यादा कंफर्टेबल कर पाएंगे।

1. अपनी अंग्रेजी बोलने की क्षमता बढ़ाएं
अंग्रेजी ही वह भाषा हैं जिसके माध्यम से आप विदेश में कम्यूनिकेट कर सकते हैं। इसलिए आपकी इंग्लिश स्पोकेन अच्छी हो यह बहुत जरूरी है। इसके महत्व को एक उदाहरण से ऐसे समझ सकते हैं- जब आप बाजार जाते हैं तो पैसे के अलावा सबसे जरूरी चीज होती है वहां से सामान लाना। ठीक इसी प्रकार अब जब पढ़ाई के लिए विदेश जाने की योजना बना रहे हैं, तो इसके लिए सबसे जरूरी चीज आपकी अंग्रेजी होगी। इसलिए अपनी अंग्रेजी पर ध्यान केंद्रित करें और इस कोविड -19 समय का उपयोग अंग्रेजी भाषा पर ज्यादा से ज्यादा पकड़ बनाने पर करें, सबसे महत्वपूर्ण चीज जो विदेशों में काम करेगी, वह होगी आपकी स्पोकन इंग्लिश कैपिसिटी और स्किल।
इसे भी पढ़ें: Hotel Management: होटल मैनेजमेंट में बनायें करियर, कैसे होगा एडमिशन, कितनी मिलेगी सैलरी

2. अपने सब्जेक्ट पर बढ़िया पकड़ बनाएं
इस समय का उपयोग अपनी प्रवेश परीक्षा और जिस विषय के साथ आप आगे की पढ़ाई के लिए विदेश जाना चाहते हैं, उसकी तैयारी के लिए करें। खासकर यदि आप यूके और ऑस्ट्रेलिया जैसे अत्यधिक प्रतिष्ठित देशों में पढ़ रहे हैं। ऐसी जगहों पर दुनिया भर के इंटेलिजेंट स्टूडेंट्स पहुंचते हैं ऐसे में आपकी बेहतर तैयारी आपको एक्स्ट्रा सपोर्ट देगी।

3. उस देश के बारे में जानें, जहां आप पढ़ाई करना चाहते हैं
जिस देश में आप अध्ययन के लिए जाने की योजना बना रहे हैं, वहां की संस्कृति और भोजन के बारे में अधिक जानने के लिए इंटरनेट का उपयोग करें। इसमें कोई शक नहीं कि कोविड-19 के प्रकोप के साथ विदेश में पढ़ाई की योजना बनाने के लिए यह एक टेंशन वाला समय है। क्योंकि कोविड संक्रमण की स्थिति सिर्फ भारत में ही नहीं प्रत्येक देश में में है। ऐसे में प्रमुख स्टडी डेस्टिनेशन वाली जगहों में वहां की सरकारें स्थिति के अनुसार नए नियम-कानून बनाती रहती है। और इसका प्रभाव विदेश में स्टडी प्लान कर रहे इंटरनेशनल स्टूडेंट्स पर पड़ता ही है।
इसे भी पढ़ें: Study Abroad: विदेश में करनी है पढ़ाई? इन 5 तरीकों से जुटा सकते हैं आर्थिक मदद

4. एजुकेशन काउंसलर्स के साथ बातचीत करें
कोविड-19 के इस इस समय में एजुकेशन काउंसलर आपको जरूरी और लेटेस्ट अपडेट दे सकते हैं। साथ ही आपको अपकी जरूरत अनुसार बेहतर गाइड कर सकते हैं। ऐसे एजुकेशन काउंसलर के संपर्क में रहें। उनसे बात करें। ये एजुकेशन काउंसलर ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, आयरलैंड, न्यूजीलैंड, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका में विश्वविद्यालयों, संस्थानों और सरकारी विभागों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। साथ ही छात्रों को जरूरी अपडेट्स भी दे रहे हैं। आईडीपी के अनुसार ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, यूके, कनाडा और आयरलैंड जैसे देश विदेशों में स्टडी को लेकर वर्चुअल फेयर का भी आयोजन कर रहे हैं। ऐसे फेयर में विदशों में स्टडी को लेकर जरूरी जानकारी उपलब्ध कराई जाती है आप भी यदि विदेश में अपनी स्टडी प्लान कर रहे हैं तो ऐसे आयोजनों में शामिल हो कर उसका लाभ उठा सकते हैं।

RELATED ARTICLES

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Latest News