CBSE 12th Result 2021: सीबीएसई 12वीं बोर्ड परिणाम घोषित कैसे हो? मनीष सिसोदिया ने पत्र लिखकर दिए ये सुझाव

हाइलाइट्स:

  • मनीष सिसोदियान ने रमेश पोखरियाल को लिखी चिट्ठी।
  • 10वीं, 11वीं रिजल्ट के आधार पर 12वीं रिजल्ट जारी करने का सुझाव।
  • CBSE ने बनाई 13 सदस्यों की कमेटी।

CBSE 12th Result 2021 Formula: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और राज्य शिक्षा मंत्री मनोष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने सीबीएसई 12वीं बोर्ड परिणाम 2021 मार्किंम स्कीम को लेकर कई सुझाव दिए हैं। उन्होंने केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ (Ramesh Pokhriyal) को लेटर लिखकर 10वीं और 11वीं के मार्क्स के आधार पर 12वीं रिजल्ट (Class 12 Result 2021) बनाने की बात कही है।

केंद्रीय बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) कक्षा 12वीं के परिणाम (CBSE 12th Result 2021) का इंतजार जारी है। बोर्ड, इंटमीडिएट रिजल्ट के लिए ऑब्जेक्टिव इवैल्यूएशन क्राइटेरिया तैयार कर रहा है, जो जल्द ही पब्लिक डोमेन में रखा जाएगा। आखिर में फाइनल क्राइटेरिया की मदद से 12वीं बोर्ड रिजल्ट घोषित होगा। इसी क्राइटेरिया के लिए दिल्ली के शिक्षा मंत्री ने केंद्रीय मंत्री को पत्र लिखकर सुझाव दिया है।

क्या है मनीष सिसोदिया का वेटेज फॉर्मूला?
मनीष सिसोदिया ने 12वीं रिजल्ट के लिए, 10वीं और 11हवीं कक्षा के परिणामों के आधार पर 20 अंक, 12वीं इंटरनल एग्जाम रिजल्ट से 30 अंक और बाकी अंक स्कूलों द्वारा लिए गए प्रैक्टिकल के आधार पर देने का फॉर्मूला सुझाया है।

ये भी पढ़ें: Class 9, 11 Result 2021: कक्षा 9 और 11वीं की परीक्षा रद्द, जानिए कब घोषित होगा परिणाम

मनीष सिसोदिया ने पत्र में लिखा-
उन्होंने केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल को लिखे पत्र में कहा कि, “70 अंकों की परीक्षा थ्योरी विषयों की होती है, इसलिए रिजल्ट इस तरह कैलकुलेट होनी चाहिए – प्री-बोर्ड परीक्षा के लिए 30 अंक और कक्षा 11 और 10 की परीक्षा के लिए 20 अंक और बाकी बचे 30 अंक प्रैक्टिकल एग्जाम से हो सकते हैं।’ उन्होंने कहा, “सीबीएसई ने पिछले तीन वर्षों में संबंधित स्कूल के परिणाम के आधार पर प्लस 2 या माइनस 2 अंकों के मॉडरेशन की अनुमति दी है, मेरा मानना है कि कक्षा 12 के लिए मॉडरेशन संदर्भ प्लस 5 या माइनस 5 अंक होना चाहिए।”

ये भी पढ़ें: AISHE Report 2019-20: पिछले 5 सालों में बढ़ा GER, छात्रों को पंसद आए ये कोर्सेज

CBSE के 13 सदस्य तय करेंगे क्राइटेरिया
दरअसल, केंद्र ने 1 जून को देश भर में जारी कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के बीच सीबीएसई कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया था और फैसला किया था कि सीबीएसई ऑब्जेक्टिव इवैल्यूएशन क्राइटेरिया के आधार पर जल्द से जल्द परिणाम घोषित करेगा। बोर्ड ने 4 जून को 10 दिनों के अंदर क्राइटेरिया तय करने के लिए 13 सदस्यीय समिति का गठन किया था।

ये भी पढ़ें: Delhi Police Constable Jobs: दिल्ली पुलिस कुल 5846 कॉन्स्टेबल भर्ती का नोटिस जारी, PE&MT डेट जारी

RELATED ARTICLES

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Latest News