राजस्थान में खुले 9वीं से 12वीं कक्षा तक स्कूल: स्कूल शिक्षा मंत्री ने विभाग के स्कूली पाठ्यक्रम में 30% सिलेबस कम करने का फैसला किया, हर महीने टेस्ट लेकर किया जाएगा मूल्यांकन

  • Hindi News
  • Career
  • School Education Minister Decided To Reduce The Syllabus By 30% In The School Curriculum Of The Department, Evaluation Will Be Done By Taking Tests Every Month

40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राजस्थान में 1 सितंबर यानी आज से 9वीं से 12वीं कक्षा तक के स्कूल खोल दिए गए हैं। स्कूल खोलने को लेकर मंगलवार को राज्य के शिक्षा विभाग ने मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) भी जारी कर दी थी जिसका सख्ती से पालन करना अनिवार्य है। इसके साथ ही स्कूल शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने ये भी कहा कि विभाग ने स्कूली पाठ्यक्रम में 30 प्रतिशत की कमी करने का फैसला किया है और अब हर महीने छात्रों का मूल्यांकन भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि महामारी की वजह से पिछले तीन महीनों में स्कूलों में कक्षाएं फिर से शुरू नहीं हो सकीं, जिससे पढ़ाई में नुकसान हुआ है।

मूल्यांकन करने के लिए हर महीने होंगे टेस्ट
स्कूल शिक्षा मंत्री के अनुसार, विभाग ने कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर के लिए तैयारी की है, और हमने अब छात्रों का मूल्यांकन करने के लिए हर महीने टेस्ट लेने का भी फैसला किया है। इन टेस्ट के परिणामों का उपयोग भविष्य में जब भी जरूरत होगी, छात्रों का मूल्यांकन करने के लिए किया जाएगा।

गाइडलाइन जारी की जाएगी
मंत्री ने ये भी उम्मीद जताई कि केंद्र की ओर से जल्द ही कोरोना वायरस गाइडलाइन जारी की जाएगी ताकि छोटे बच्चों के लिए स्कूल खोले जा सकें। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के संपर्क में है और मुख्यमंत्री बार-बार विशेषज्ञों और डॉक्टरों से स्थिति पर चर्चा करते हैं। स्थिति को देखते हुए कोई और निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा जारी एसओपी का पालन किया जाना भी अनिवार्य है। साथ ही टीचर्स को वैक्सीन की दोनों खुराक भी लेना चाहिए।

खबरें और भी हैं…
RELATED ARTICLES

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Latest News