अजमेर में कोरोना नियंत्रण के लिए पहल: हेल्थ कंसल्टेंट एवं स्वास्थ्य सहायक लगेंगे; स्थानीय को मिलेगी प्राथमिकता, मेरिट से होगा चयन, मरीजों को राहत

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अजमेर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अजमेर जिले में कोरोना महामारी पर रोकथाम के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से 40 कोविड हेल्थ कंसल्टेंट के साथ स्वास्थ्य सहायक को नियोजित किया जाएगा। इसमें चयन मेरिट के अनुसार होगा और स्थानीय को प्राथमिकता मिलेगी। यह नियुक्ति नागरिक सुरक्षा विभाग द्वारा स्वंयसेवकों को नियुक्त करने की तर्ज पर 31 जुलाई 2021 तक दो माह के लिए होगी।

कोविड-19 से उत्पन्न वर्तमान परिस्थिति को देख्रते हुए राज्य सरकार द्वारा संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने, कोविड से संक्रमित मरीजों को समुचित उपचार, चिकित्सकीय सेवाएं उपलब्ध कराने तथा मृत्यु दर को न्यूनतम किए जाने के लिए यह पहल की है। इसके अन्तर्गत प्रदेश में संचालित घर-घर सर्वे एवं दवाई वितरण के कार्य को गति प्रदान करने की योजना है।

40 कोविड हेल्थ कंसल्टेंट, मानदेय 39300 रुपए

राज्य सरकार द्वारा 1000 कोविड हेल्थ कंसल्टेंट को नियोजित करने का निर्णय किया गया था। इसके अंतर्गत अजमेर जिले में 40 कोविड हेल्थ कंसल्टेंट नियोजित होंगे। कोविड हेल्थ कन्सलटेन्ट की न्यूनतम योग्यता MBBS एवं राजस्थान मेडिकल काउसिंल में पंजीकृत होना निर्धारित की गई है। इनकी सेवाएं कोविड कंसल्टेंशन सेंटर पर, घर-घर सर्वे कार्य को गति प्रदान करने तथा पर्यवेक्षण के लिए ली जाएगी। कोविड हेल्थ कंसल्टेंट का मासिक मानदेय 39300 रुपए मिलेगा।

ऐसे लगेंगे स्वास्थ्य सहायक, मासिक मानदेय 7900

प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर एक, प्रत्येक पीएचसी पर दो, प्रत्येक सीएचसी पर तीन तथा शहरी क्षेत्र में प्रत्येक वार्ड के लिए दो कोविड स्वास्थ्य सहायकों का नियोजन किया जाएगा। शहरी क्षेत्रों में इनका नियोजन जिला चिकित्सालय कोविड केयर सेंटर, ऑक्सीजन मॉनीटरिंग एवं कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए किया जाएगा। इसके लिए न्यूनतम योग्यता नर्स ग्रेड-द्वितीय अथवा जीएनएम एवं आरएनसी में पंजीकृत होना निर्धारित की गई है। स्वास्थ्य सहायक का मासिक मानदेय 7900 रुपए मिलेगा।

यह होगा कार्य

कोविड हेल्थ कंसल्टेंट एवं कोविड स्वास्थ्य सहायक संबंधित ग्राम पंचायत में कोरोना एवं उसके संक्रमण के बारे में घर-घर सर्वे कर आमजन को जागरूक करेंगे। सर्वे के दौरान चिन्हित मरीजों को दवा वितरण तथा संक्रमण की रोकथाम के लिए कार्य करेंगे। इन नियोजित कन्सलटेन्टों एवं सहायकों का कोरोना के संबंध में ओरियन्टेशन किया जाएगा।

यह होगी नियोजन प्रक्रिया

कोविड हेल्थ कंसल्टेंट एवं कोविड स्वास्थ्य सहायकों के पदों पर नियोजन के लिए स्थानीय समाचार पत्रों में 5 दिवस की संक्षिप्त विज्ञप्ति जारी की जाएगी। चयन के लिए स्थानीय अभ्यर्थियों को वरीयता दी जाएगी। कोविड हेल्थ कंसल्टेंट के लिए पीजी (एमडी) मेडिसिन एवं एनेस्थिसिया वाले अभ्यर्थी को सर्वप्रथम नियोजित किया जाएगा। स्थानीय आशार्थी उपलब्ध नहीं होने पर अन्य जिलों के व्यक्तियों को नियुक्त किया जा सकेगा।

मेरिट से होगा चयन

कोविड स्वास्थ्य सहायक के नियोजन के लिए स्थानीय अभ्यर्थियों को शैक्षणिक योग्यता के प्रतिशत एवं तकनीकी योग्यता के प्रतिशत के आधार पर मेरिट बनाकर चयन किया जाएगा। स्थानीय आशार्थी के उपलब्ध नहीं होने पर अन्य जिलों के आशार्थियों को मेरिट के अनुसार नियोजित किया जाएगा।

चयन कमेटी में ये होंगे शामिल

कोविड हेल्थ कंसल्टेंट एवं कोविड स्वास्थ्य सहायकों के नियोजन के लिए जिला स्तर पर कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी के अध्यक्ष जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गौरव सैनी होंगे। कमेटी के सदस्य सचिव मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.के. सोनी तथा सदस्य उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामस्वरूप किराडिया होंगे।

खबरें और भी हैं…
RELATED ARTICLES

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Latest News