रद्द होगी 7 फार्मेसी कॉलेजों की मान्यता, परीक्षाओं में हुई थी सामूहिक नकल

Education News in Hindi: परीक्षाओं में सामूहिक नकल कराने की पुष्टि होने के बाद तकनीकि शिक्षा एवं औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग (Technical Education and Industrial Training Department) पंजाब के सात फार्मेसी कॉलेजों की मान्यता रद्द करने जा रहा है। विभाग द्वारा जारी बयान के अनुसार, गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक कॉलेज, बरेटा (Government Polytechnic College) के प्रिंसिपल नवनीत वालिया (Navneet Walia) और सेक्शन ऑफिसर अनिल कुमार के खिलाफ चार्जशीट फाइल करने का आदेश भी दे दिया गया है।

तकनीकि शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव अनुराग वर्मा ने कहा कि ‘जांच में पाया गया है कि सितंबर-अक्टूबर में इन कॉलेजों में हुई ऑफलाइन परीक्षा में सभी स्टूडेंट्स की आंसरशीट्स एक जैसी थी। ये आंसरशीट्स शब्दशः मैच कर रही थीं। ऑनलाइन परीक्षाओं की कुछ कॉपियों में भी एक जैसे आंसर्स थे।’

इस मामले में पंजाब स्टेट बोर्ड ऑफ टेक्निकल एजुकेशन एंड इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग सचिव और गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक कॉलेज (गर्ल्स) पटियाला के प्रिंसिपल से जवाब मांगा गया है। इसी कॉलेज में उन सभी सात कॉलेजों की आंसरशीट्स मूल्यांकन के लिए भेजी गई थीं।

अनुराग वर्मा ने कहा कि जांच रिपोर्ट में साफ तौर पर कहा गया है कि सितंबर और अक्टूबर में हुई परीक्षाओं में इन सात फार्मेसी कॉलेजों में सामूहिक नकल हुई थी। इन कॉलेजों की मान्यता रद्द करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इन्हें एक सप्ताह के अंदर कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। वो परीक्षाएं भी रद्द होंगी और री-एग्जाम्स कराए जाएंगे।

इन 7 कॉलेजों की मान्यता रद्द होगी
वेंकैया कॉलेज ऑफ फार्मेसी
विद्या सागर पैरामेडिकल कॉलेज
महाराज अग्रसेन इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी
लॉर्ड कृष्णा कॉलेज ऑफ फार्मेसी
कृष्णा कॉलेज ऑफ फार्मेसी
आर्यभट्ट कॉलेज ऑफ फार्मेसी
मॉडर्न कॉलेज ऑफ फार्मेसी

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News