टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 27 मार्च 2020


टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 27 मार्च 2020 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से-विश्व रंगमंच दिवस और वित्त मंत्री सीतारमण आदि शामिल हैं.

विश्व रंगमंच दिवस 2020: जानें थिएटर का इतिहास और इसकी अहमियत

हर साल दुनिया भर में इस दिन राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय थिएटर समारोह होते है. अंतर्राष्ट्रीय रंगमंच सन्देश इस दिन का एक महत्त्वपूर्ण आयोजन है. इस अवसर पर किसी एक देश के रंगकर्मी द्वारा  विश्व रंगमंच दिवस के लिए आधिकारिक सन्देश जारी किया जाता है. साल 1962 में फ्रांस के जीन काक्टे पहला अन्तर्राष्ट्रीय सन्देश देने वाले कलाकार थे.

विश्व रंगमंच दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों में थिएटर को लेकर जागरुकता लाना और थिएटर की अहमियत याद दिलाना है. लंबे समय से थिएटर मनोरंजन के साथ सामाजिक मुद्दों को लेकर जागरूकता फैलाने का काम करते रहे हैं. विश्व रंगमंच दिवस (World Theatre Day) 27 मार्च को लोगो में यही जागरूकता लाने के लिए मनाया जाता है.

RBI का ऐतिहासिक फैसला, दी सभी तरह के कर्ज ब्याज में छूट

आरबीआई ने हाल ही में कर्ज देने वाले सभी वित्तीय संस्थानों को सावधिक कर्ज की किस्तों की वसूली पर तीन महीने तक रोक की छूट दे दी है. आरबीआई ने कहा कि इससे कर्जदार की रेटिंग (क्रेडिट हिस्ट्री) पर कोई असर नहीं पड़ेगा. साथ ही बैंकों को ईएमआई पर भी छूट देने की सलाह की है, जिसके बाद बैंक ग्राहकों के लिए जल्द ही घोषणा कर सकते हैं.

आरबीआई ने हाल ही में रेपो रेट में 0.75 प्रतिशत की कटौती कर दी है और रेपो रेट 5.15 प्रतिशत से घटाकर 4.40 प्रतिशत कर दिया है. इसके बाद बैंकों को आरबीआई से सस्ती दरों पर कर्ज मिल सकेगा. आरबीआई ने रिवर्स रेपो रेट भी 0.90 प्रतिशत से घटाकर 4 प्रतिशत कर दिया है. रिवर्स रेपो रेट वो दर है जिस पर आरबीआई शॉर्ट टर्म के लिए बैंकों से कर्ज लेता है.

वित्त मंत्री सीतारमण ने गरीबों की मदद के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की

वित्त मंत्री ने हाल ही में कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 80 करोड़ लोगों को सस्ते दर अनाज मिलेगा. केंद्र सरकार ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से कोई भी गरीब खाना को लेकर चिंता न करे. गरीब लोगों को 5 किलो अतिरिक्त अनाज 3 महीने फ्री में मिलेगा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल ही में कहा कि बुजुर्ग, विधवा और दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये अतिरिक्त दिए जाएंगे. ये अगले तीन महीने के लिए है. दीनदयाल योजना के तहत महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा. पहले इनको 10 लाख तक का लोन दिया जाता था.

मशहूर चित्रकार और लेखक सतीश गुजराल का निधन, जानें उनके बारे में सबकुछ

सतीश गुजराल भारत के पूर्व प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल के छोटे भाई थे. सतीश गुजराल की कलाकृतियों में उनके शुरुआती जीवन के उतार-चढ़ाव की झलक देखने को मिलती है. सतीश गुजराल वास्तुकार, चित्रकार, भित्तिचित्र कलाकार और ग्राफिक कलाकार थे.

सतीश गुजराल का कला के क्षेत्र में अमुल्य योगदान के देने हेतु कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है. यही नहीं उन्हें भारत सरकार द्वारा साल 1999 में पद्म विभूषण भी प्रदान किया जा चुका है. सतीश गुजराल को कला के क्षेत्र में तीन बार राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News